raju shrivastav : मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव धरती से अपनी ईह लीला को समाप्त कर दिए ,राजू श्रीवास्तव निसंदेह हास्य के किंग माने जाते थे !

raju shrivastav :- राजू श्रीवास्तव एक लंबी बीमारी से जूझत-जूझत बुधवार के दिन धरती को अलविदा कह गए हैं 10 अगस्त को ही कार्डियक अरेस्ट होने के कारण उनको एम्स में भर्ती कराया गया था लेकिन भगवान को कुछ और ही मंजूर था |




AIIMS मैं राजू श्रीवास्तव द्वारा आखरी सांस लिया गया | इनकी मृत्यु की खबर पूरे राजनीतिक सूबे एवं बॉलीवुड तथा भारत के आम जनमानस के बीच शोक की लहार दौड़ पड़ी, राजू श्रीवास्तव खाता संख्या दिल्ली में किया जाएगा |

raju shrivastav 2022: मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव धरती से अपनी ईह लीला को समाप्त कर दिए ,राजू श्रीवास्तव निसंदेह हास्य के किंग माने जाते थे !

राजू श्रीवास्तव की राजनीतिक कैरियर

Political career of Raju Srivastava :- यह बात कम ही लोगों को याद होगा कि राजू श्रीवास्तव कभी सपा से जुड़े थे और बाद में उन्होंने बीजेपी का दामन थामा था कला याद रहती है पर समझौते पीछे छूट जाती है, जो कलाकार अपने जीवन काल में किसी प्रलोभन या दबाव में कार्य करते हैं |

वह कभी किसी व्यक्ति द्वारा याद नहीं रहते जगदीश सिंह ने कभी अटल बिहारी बाजपेई के लिखी बहुत मामूली कविताएं गाने की कोशिश की थी | और उनके अच्छे गीत भी याद किए जाते हैं श्रीकांत वर्मा कांग्रेस के राजनीति में रहे यह बात भुलाई जा चुकी है |सबको “मगध” है याद है |

कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव की कला

Comedian Raju Srivastava’s art :- हास्य कलाओं में निपुण राजू श्रीवास्तव एक अच्छे कलाकार थे यह लोगों को हंसाते थे हंसाना कलाओं में शायद सबसे अपेक्षित काम माना जाता है | चुटकुले साहित्य की सबसे विस्तृत विद्या है |

इतने तिरस्कृत की चुटकुले को करने वाले कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव अपना नाम तो जोड़ना पसंद नहीं करते थे | लेकिन हंसाने की परंपरा बहुत पुरानी है, विधियां भी बहुत सारी हैं, हिंदी में हास्य कविता एक स्वतंत्र विद्या हो चुकी है साहित्य को हिंदी का संभवत यह मौलिक योगदान है |

raju shrivastav 2022 :- इसके अलावा व्यंग में चुभन के अलावा हाथ से भी होता है फिर नाटक अभी हंसाने के माध्यम रहे हैं | सर्कस में जोकर किसी भी जानवर से कम पसंद नहीं किए जाते रहे हैं |

वाक्य में जो छुपी हुई टीस या त्रासदी है, वह जानबूझकर डाली गई है यह बताने के लिए कि हम अपने हनसोद लोगों का बहुत सम्मान नहीं करते हैं | उनके साथ कई बार हम लोगों द्वारा अमानवीय व्यवहार किया जाता है |

राजू श्रीवास्तव और कॉमेडीनओ के अपेक्षा अलग क्यों थे ?

Why Raju was different than Srivastava and Comedino :- राजू श्रीवास्तव की जो कला थी raju shrivastav 2022 :-वह हंसाते थे अंग्रेजी में या कथा कथित नई हिंदी में जिसे स्टैंड अप कॉमेडियन कहते हैं मगर राजू श्रीवास्तव की यूएसपी क्या थी, क्यों वह दूसरे से अलग थे, इसका जवाब भी आसान है उनमें अपनी तरह का देसीपन था उस निम्न वर्गीय जीवन की समिति जिसे कुछ बरस पहले ही छोड़ कर हम उच्च वर्गीय जीवनशैली में दाखिल हुए हैं |

दूसरी बात यह कि इस देसीपन को उन्होंने बहुत विश्वसनीयता से निभाया वह मुद्राओं को पकड़ने में निशांत थे संभवत आंगिक शैली के बेहतरीन अभिनेता जो मंच पर बिना किसी अन्य साधन के पूरा दृश्य रच सकते थे |

ऐसा नहीं कि उनका यह सारा कमाल मौलिक था तीन दशक पहले छोटे-छोटे शहरों में आर्केस्ट्रा कार्यक्रम बहुत सारे हास्य कलाकारों को ऐसे होते थे जो मूल कार्यक्रम शुरू होने से पहले दर्शकों को बांधे रखने का काम पूरे कौशल के करते थे |

raju shrivastav 2022 :-यह काम बिल्कुल स्थानीय बोली में जाने पहचाने कि सो नई-नई शक्लो में पेश करते थे | राजू श्रीवास्तव इसी परंपरा से निकले हैं, इस मायने में खुशनसीब रहे कि जब वे शिखर पर थे और नीचे का सफर शुरू करते उसके ठीक पहले 24 घंटे के वे खबरिया चैनल शुरू हो गया |

जिनको अपने मगरमच्छ का मुंह भरने के लिए हर तरह का तमाशा चाहिए था |अचानक राजू श्रीवास्तव जैसे कई कलाकार हास्य के जरिए मीडिया की एक लोकप्रिय आलोचना यह रहा कि 3 “आर” निर्भर हैं

राजू श्रीवास्तव और कपिल शर्मा शो की प्रोग्राम https://bharatyojana.org/raju-shrivastav/

raju shrivastav 2022 :- बाहर हाल राजू श्रीवास्तव नहीं पीते कुछ मीडिया चैनलों द्वारा टीआरपी के चक्कर में उनकी मांगों को घटा दे गए जिनके कारण इनकी शो टीवी चैनलों पर कमाने लगा टीवी शो के दौरान या मंच प्रोग्रामों के दौरान भी इनकी डिमांड कम नहीं हुई इनकी मांग ऐसी थी कि ,देश के सबसे बड़े अखबार दैनिक भास्कर ने उनको एक साप्ताहिक स्तंभ दे डाला

जहां वे हल्के-फुल्के मजाक की मुझे में कुछ बातें किया करते थे हाल के वर्षों में टीवी चैनलों पर उनकी उपस्थिति असंभव तो कुछ घटी थी और हास्य के नए सम्राट कपिल शर्मा शो हो चुके थे यह बताते हुए अगर हम समझने लायक बचे होते तो समझते हैं कि भारत का हादसे बोधन कुछ और निम्न स्तरीय हो चुका है |

raju shrivastav 2022 :- और उसमें फूहड़ लैंगिक मजाको और इशारों की स्वीकृति और गुंजाइश कुछ और बड़ी है ऐसा नहीं कि यह सब भारतीय समाज के हास्य बोधन में पहले अनुपस्थिति था राजू श्रीवास्तव या उन जैसे दूसरे कलाकार भी जब अपनी कॉमेडी किया करते थे तो समाज के प्रचलित लैंगिक मजाको और पूर्व ग्रहों का भरपूर इस्तेमाल करते थे |

लेकिन वह एक देशज परंपरा का हिस्सा था जिसकी सामंती सरहदें सबको मालूम थी आज के दौर में नई कॉमेडी मैं सामंती संडाध के 77 आधुनिक लंपटता भी शामिल है जो इसे कुछ ज्यादा और रुचिकर बना डाली है | लेकिन राजू श्रीवास्तव इन में नहीं फंसे हैं यह नहीं कहा जा सकता लेकिन यकीनन वह इसके लिए जाने नहीं जाते थे उनकी पहचान इस पर आश्रित नहीं थी |

raju shrivastav 2022

Raju shrivastav 2022–  महत्वपूर्ण लिंक देखें
Gadgets Update Hindi Home Page LinkClick Here
Liger movie 2022Click Here
Amrita Hospital 2022Click Here
Instagram Joining LinkClick Here
Google NewsClick Here
telegram webClick Here

Leave a Comment