Up Sarkari Yojana : योगी जी के द्वारा ➡️➡️ Yogi Yojana List, जानकारी देखें! 2022

|| sarkari yojana 2022 | up govt schemes, सरकारी योजना उत्तर प्रदेश 2021 list, sarkari yojna up, sarkari yojana 2022, up list, सरकारी योजना रजिस्ट्रेशन up, up sarkari yojana 2021, लड़कियों के लिए सरकारी योजना 2021 up, सरकारी योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, लड़कियों के लिए सरकारी योजना 2020 up, sarkari yojana.com 2021, गाँव संबंधी सरकारी योजनाओं की जानकारी 2021 up ||

उत्तर प्रदेश में इस समय मौजूद मुख्यमंत्री माननीय श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा जारी सभी सरकारी योजनाएं, इसके अलावा (Up Sarkari Yojana) उत्तर प्रदेश राज्य में पहले से जारी सभी सरकारी योजनाओं की सूची तथा मिलने वाले फायदे के संबंधित सभी जानकारी इस में आप सभी को कैटिगरी वाइज जानकारियां दी जाएंगी|

जैसे कि- महिलाओं के लिए Sarkari Yojana, बच्चों के लिए योजना, बुजुर्ग व्यक्तियों के लिए (महिलाओं, श्रमिकों, किसानों, आर्थिक रुप से गरीब या कहें गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले व्यक्ति, ऐसे छात्र छात्र जो पढ़ने में असमर्थ हैं, उनके लिए योजनाओं का निर्धारण तथा क्षेत्र में बेरोजगार युवाओं को रोजगार प्रदान करने हेतु लगातार प्रयास में जुटी हुई है!

योगी सरकार )सरकारी योजनाओं की सूची तथा मिलने वाले लाभ ! आवेदन करने के संबंधित जानकारी मौजूद होगी|

कृपया करके आप सभी उत्तर प्रदेश में निवास करने वाले व्यक्तियों से मेरी गुजारिश है कि आप इस पोस्ट को पूरा अवश्य पढ़ें!

इसके अलावा आपके मन में कोई भी सवाल एक सुझाव हो तो कमेंट से समय आप बता सकते हैं, इसलिए जानकारी को विस्तार पूर्वक समझ कर लेते हैं|

Up Sarkari Yojana : योगी जी के द्वारा Yogi Yojana List, जानकारी देखें!
Up Sarkari Yojana : योगी जी के द्वारा Yogi Yojana List, जानकारी देखें!

Contents

Up Sarkari Yojana योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा जारी सरकारी योजनाओं की लिस्ट

उत्तर प्रदेश के सभी नागरिकों के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा जारी Up Sarkari Yojana के संबंधित जानकारी तथा कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी योगी सरकार योजना सूची सूचीबद्ध तरीके से दी जाएगी|

तथा योजना के संबंधित इंफॉर्मेशन तथा पात्रता भी मौजूद रहेगी | इसके लिए आप लोगों को उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा जारी up.gov.in आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर सूची को देख सकते हैं|

उत्तर प्रदेश में जारी सरकारी योजनाओं का मुख्य उद्देश्य क्या है?

इन सभी योजनाओं के संबंधित जानकारी एकत्र करने से पहले इसका उद्देश्य जानना बहुत ही जरूरी होता है | तो पहले हम लोग यहां पर जानेंगे कि उत्तर प्रदेश योगी सरकार योजनाओं का उद्देश्य क्या है?, काफी लंबे समय बाद उत्तर प्रदेश राज्य में भाजपा की सरकार बनी है|

जिसमें UP CM माननीय श्री योगी आदित्यनाथ जी पहले मुख्यमंत्री बने हुए हैं| इसलिए पुराने तथा ने सभी सरकारी योजनाओं को तथा जारी किए हुए नए योजनाओं को सुचारू रूप से लोगों को तक पहुंचाना ही अहम उद्देश्य है|

वही इसके अंतर्गत लोगों को वित्तीय सहायता राशि तथा विधवा महिलाओं हेतु या बुजुर्ग महिला या बुजुर्ग पुरुषों हेतु सरकारी मदद सीधे तौर पर पहुंचाना |

इसके विभिन्न प्रकार की अनेकों अनेक योगी योजनाओं का तथा आर्थिक रूप से कमजोर अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग के सभी मध्यम वर्गीय व्यक्तियों को जरूरतों की पूर्ति करने हेतु ध्यान में रखकर Up Sarkari Yojana की शुरुआत की जाती है|

जिससे कि उनको भविष्य में इन सभी समस्याओं से जूझने में आर्थिक सहयोग दी जा सके तथा उत्तर प्रदेश के सभी नागरिकों को सशक्त तथा आत्मनिर्भर बनाया जा सके यह सभी मुख्य उद्देश्यों में आते हैं|

➡️ Up Sarkari Yojana Highlights

योजना का नामउत्तर प्रदेश सरकारी योजना या योगी योजना
यह कार्यक्रम किसके द्वारा की गई हैउत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के कर कमलों द्वारा
लाभार्थी कौन हैराज्य के सभी नागरिक
इसका उद्देश्यविभिन्न प्रकार के लाभ उत्तर प्रदेश के नागरिकों को पहुंचाना शामिल है
उत्तर प्रदेश से योजनाओं की सूचीइस पोस्ट के निचले हिस्से में जानकारी मौजूद है

➡️➡️ सीएम योगी आदित्यनाथ की सभी सरकारी योजनाओं की लिस्ट

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार जब से सत्ता में आई है तब से आए दिन लगातार नए नए प्रयास किए जा रहे हैं जिससे कि राज्य के सभी नागरिकों को योजनाओं के संबंधित लाभान्वित किया जाए|

इसके अतिरिक्त ऐसे भी नागरिक हैं जो इन योजनाओं के लाभ ले रहे हैं और लाभ लेने में जुटे हुए भी हैं | इसके अलावा सरकार द्वारा लोगों के जीवन को कल्याणकारी बनाने हेतु या आत्मनिर्भर बनाने हेतु जो भी संभव प्रयास है !

उसे भी लगातार किए जा रहे हैं जिससे कि लोगों में सरकारी योजनाओं के प्रति और जागरूकता बढ़ाया जा सके | इसके अतिरिक्त सरकार के द्वारा जारी सभी सरकारी योजनाओं की लिस्ट के संबंधित लाभ लेना चाहते हैं| तो इस पोस्ट को विस्तार पूर्वक पूरा अवश्य पढ़ें लगभग इस पोस्ट में पूरी जानकारी मौजूद मिलेगी!

सीएम योगी से लेकर अब तक की जो भी निम्न योजनाओं की सूची प्रदान की जाएगी | इसके अलावा योजनाएं में लगने वाले आवश्यक दस्तावेज, ऑनलाइन करने की प्रक्रिया, कौन पात्र है, महत्वपूर्ण तिथियां तथा अधिकारी जानकारी में मौजूद मिलेगी|

➡️➡️ उत्तर प्रदेश सरकारी योजनाओं के लाभ

यूपी गवर्नमेंट के द्वारा जारी नागरिकों के लिए सरकारी योजनाओं के क्या लाभ हैं संबंधित जानकारी निम्नलिखित रुप में प्रस्तुत है:

➡️➡️ उत्तर प्रदेश जन आरोग्य योजना

भारत सरकार की सबसे बड़ी योजना आयुष्मान भारत चिकित्सा के क्षेत्र में सबसे बड़ी योजना मान जाती है, इसी के समकक्ष उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा उत्तर प्रदेश CM जन आरोग्य योजना की शुरुआत की गई थी |

जिसके माध्यम से ऐसे छूटे हुए पात्र लाभार्थी जो अंतोदय लाल राशन कार्ड में पात्र हैं | उनको भी इस योजना के साथ जोड़ा गया है, तथा ऐसे मजदूर व्यक्ति जो श्रमिक कार्ड बनवाए हुए थे|

उन्हें भी इस योजना के साथ जोड़ा गया था, यह मजदूर कार्ड उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा जारी की जाती है | जिसमें साइकिल भी दी जाती है| इसके अलावा उत्तर प्रदेश जन आरोग्य योजना के माध्यम से ऐसे पात्र लाभार्थी जो छूट गए हैं उनके परिवार जन को 5 लाख का मुफ्त इलाज की सुविधा मुहैया कराई जाती है| यह स्कीम आयुष्मान भारत योजना में भी लागू होती है |

➡️➡️ यूपी फ्री टैबलेट/स्मार्टफोन योजना

यह योजना उन छात्र-छात्राओं के लाई गई थी जो 10वीं तथा 12वीं में अच्छे नंबरों से उत्तीर्ण किए हुए हैं तथा इससे छात्रों का मनोबल और बढ़ेगा और टेक्नोलॉजी के इस दौर में उनका योगदान भी अच्छे से रहेगा इसलिए उत्तर प्रदेश के सीएम आदित्यनाथ योगी जी के द्वारा मुफ्त टेबलेट/स्मार्टफोन या फ्री लैपटॉप योजना की भी शुरुआत की गई थी |

यह योजना पिछले सरकार मैं भी लाई गई थी इसे छात्रों द्वारा काफी सराहा गया था | यहां यह योजना पोस्ट ग्रेजुएशन, बी टेक, पॉलिटेक्निक, मेडिकल, पैरामेडिकल तथा कौशल विकास मिशन वाले अभ्यार्थियों  स्मार्ट फोन/टेबलेट मोहिया करवाए जाएंगे।

✔️ योजना का नाम✔️ UP Free Tablet Yojana Highlights/मुफ़्त टैबलेट वितरण योजना
✔️ राज्यउत्तर प्रदेश
✔️ द्वारा घोषितमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
✔️ लाभार्थीसरकारी स्कूल के छात्र-छात्राएं
✔️ ऑफिसियल वेबसाईटup.gov.in
✔️ Oprating system (OS)Android
✔️ Tablet pre-loaded contentOnline tests, Online videos, Digital books
✔️ उद्देश्यऑनलाइन शिक्षा का विस्तार
✔️ Online Apply Start Dateउपलब्ध नहीं
✔️ Last DateNA

➡️➡️ उत्तर प्रदेश छात्रवृत्ति योजना

आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों को पढ़ाई के क्षेत्र में और अधिक प्रोत्साहन देने के लिए प्रदेश की योगी सरकार के तरफ से छात्रवृत्ति योजना चलाई जा रही है| वैसे तो यह योजना पहले से ही राज्य स्तर में दी जाती है! लेकिन इस योजना में काफी सुधार हुए हैं और छात्रों को स्कॉलरशिप दी जाती है वही कक्षा 9, 10, 11 एवं 12 में पढ़ने वाले बच्चों को स्कॉलरशिप प्रदान की जाती है|

इसके अलावा ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन कर रहे छात्रों को भी यूपी स्कॉलरशिप योजना के साथ जोड़ा गया है| ताकि उनको भी इसका लाभ मिल सके! वही ऐसे बच्चे जिनकी पारिवारिक वार्षिक आय ₹200000 उससे कम है वह इस योजना के लिए पात्र हैं|

इसके संबंधित आप लोग स्कॉलरशिप के अधिकारियों को साइट पर जाकर छात्रवृत्ति हेतु ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं | ऑनलाइन आवेदन किए कोई भी छात्र स्कॉलरशिप का लाभ नहीं ले पाएगा|

➡️➡️उत्तर प्रदेश शादी विवाह अनुदान योजना

राज्य के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा ऐसे असहाय परिवारों को देखते हुए इस योजना का शुभारंभ किया गया है जहां 18 वर्ष की उम्र पूर्ण हो जाने के बाद जिन माता पिता की आर्थिक स्थिति बहुत ही दयनीय होती है|

उनकी बच्चियों के शादी हेतु कन्या शादी अनुदान योजना या कहें तो यूपी शादी अनुदान योजना के अंतर्गत ₹51000 की राशि प्रदान की जाती है| वैसे इसमें पात्रता गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को दी जाती है|

इस योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को मैरिज रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है| इसके अतिरिक्त दिए हुए लिंक पर आप जाएं और शादी अनुदान योजना के संबंधित क्या पात्रता है| तथा कैसे ऑनलाइन आवेदन करना है , और कौन-कौन से डॉक्यूमेंट आपको देने होंगे संबंधित जानकारी आपको मिल जाएगी|

तथा आवेदन करने की प्रक्रिया भी बताई गई है | जिससे कि आप सफलतापूर्वक आवेदन करके शादी अनुदान योजना क्या पूर्णता लाभ प्राप्त कर पाएंगे

➡️➡️ यूपी एकमुश्त समाधान योजना

उत्तर प्रदेश विद्युत कारपोरेशन के अंतर्गत राज्य के ऊर्जा मंत्री श्री श्रीकांत शर्मा के निर्देशों के अनुसार राज्य में एक मुफ्त बिजली बिल समाधान योजना चलाई जा रही है|

जिसके अंतर्गत राज्य का ऐसा नागरिक जो आर्थिक रूप से कमजोर हो बिल का बिल जमा करने में हो रही समस्याओं को देखते हुए बिजली बिल के सर चार्ज में माफी की गई है या कहें तो सरचार्ज सौ पर्सेंट छूट के साथ कोई भी पर UP का नागरिक अपने बिजली बिल को जमा कर सकता है |

यहां एकमुश्त समाधान योजना का मतलब यह है कि आपका सर चार्ज भी माफ हो जाएगा तथा आप अपने बिजली बिल को किस्त के हिसाब में भी जमा कर सकते हैं |

इस योजना से काफी लोगों को सीधे तौर पर फायदा हो रहा है | इस योजना के संबंधित विस्तार पूर्वक जानकारी के लिए दिए हुए लिंक पर क्लिक करें | और अभी इसके लिए आवेदन कर सकते हैं|

➡️➡️ अभ्युदय योजना UP | Abhyudaya Yojana Uttar Pradesh

उत्तर प्रदेश राज्य के ऐसे प्रतिभागी अभ्यार्थी जो अपनी आर्थिक स्थिति सही ना होने की वजह से अपनी प्रतिभा साबित करने में असमर्थ थे| उन अभ्यार्थियों के लिए योगी सरकार की अभ्युदय योजना मील का पत्थर साबित होगा|

इस योजना के अंतर्गत प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग बिल्कुल मुफ्त में प्रदान किए जाएंगे | इस योजना का उद्देश्य छात्रों को अपनी प्रतिभा दिखाने में किसी भी तरह की आर्थिक स्थिति बीच में खलल ना डालें इसलिए अभ्युदय योजना की शुरुआत की गई है|

इस योजना के अंतर्गत अभ्यार्थी इन प्रतियोगी परीक्षाओं मैं प्रतिभागी बनने से पहले अभ्युदय योजना के माध्यम से निशुल्क कोचिंग प्राप्त कर सकते हैं | जिनमें शामिल है फ्री यूपीएससी कोचिंग, यूपीपीएससी, जेईई, नेट परीक्षा, नीट, यूपीटेट, एसएससी, आदि जैसे प्रतियोगी परीक्षाओं में तैयारी हेतु इस योजना का लाभ ले सकते हैं|

इस योजना में कैसे आवेदन करना है! संबंधित जानकारी दिए हुए लिंक पर क्लिक करके अभ्यार्थी ले सकते हैं|

➡️➡️ उत्तर प्रदेश बीसी सखी योजना : ( UP Banking Correspondent Sakhi)

महिलाओं को और अधिक सशक्त बनाने हेतु उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के द्वारा उत्तर प्रदेश बीसी सखी योजना की शुरुआत की गई! मुख्य रूप से यह योजना उन महिलाओं के लिए वरदान साबित होगी जो आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से आते हैं|

तथा विधवा महिलाएं इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर बैंक से जुड़ी हुई सेवाएं प्रदान करेंगे| जैसे:- कि खाते से आधार इनेबल पेमेंट सिस्टम के जरिए पैसे (विड्रॉल) निकालना तथा जमा संबंधित कार्य शामिल हैं | भविष्य में नया खाता खोलने के लिए भी सिस्टम जोड़े जाएंगे|

इस कार्य को करने के उपरांत कुछ कमीशन भी बीसी सखी को दिए जाएंगे| इसके तहत एक बार कोई महिला बीसी सखी योजना के अंतर्गत नियुक्त हो जाती है| तो 6 महीने तक प्रतिमाह ₹4000 की धनराशि यूपी सरकार की तरफ से प्रदान की जाएगी |

पहले चरण में उत्तर प्रदेश बीसी सखी योजना की नियुक्ति हो चुकी है तथा इसके रिजल्ट भी जारी हो चुके हैं | इसके अलावा महिला सखी योजना के अंतर्गत होने वाले कार्यों में प्रयुक्त डिजिटल डिवाइस जैसे:- कि सिंगल फिंगर प्रिंट डिवाइस तथा एक एंड्राइड मोबाइल फोन बीबीसी सखी को मुहैया कराए जाएंगे |

इसके लिए ₹50000 की राशि प्रायोजित होती है, सखी योजना में कैसे आवेदन करना है, तथा जारी किए गए सखी योजना रिजल्ट कैसे देखेंगे लिंक पर क्लिक करें और जानकारी को प्राप्त करें|

➡️➡️ मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना भी चलाई जा रही है जिसके अंतर्गत ऐसे बच्चे जो आर्थिक रूप से बहुत ही कमजोर हो या उनके माता-पिता करोना संक्रमण में करोना के वजह से मृत्यु हो जाने की स्थिति में इस योजना की शुरुआत की गई थी| 30-05-2021 को इसका आधिकारिक तौर पर संचालन शुरू हुआ था |

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के माध्यम से उन बच्चों के अभिभावकों को ₹4000 आर्थिक सहायता राशि प्रतिमाह प्रदान करने की योजना है |

बच्चे की आयु 10 वर्ष से कम है उसका कोई अभिभावक नहीं है तो उनको राजकीय बाल गृह मैं रहने की अच्छी सुविधा भी प्रदान कराई जाएगी| इसके अतिरिक्त लड़कियों को अलग से आवासीय सुविधा प्रदान की जाएगी तथा शादी के लिए आर्थिक सहायता भी सरकार की तरफ से दी जाएगी|

➡️➡️ यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना | UP Bhagya Laxmi Yojana

उत्तर प्रदेश में भाग्यलक्ष्मी योजना को भी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय श्री योगी आदित्यनाथ जी के ही द्वारा संचालित की गई है| राज्य की बेटियों को सीधे लाभ पहुंचाने के लिए इस योजना की नीव रखी गई है|

योजना के अंतर्गत और राज्य के ही ऐसे परिवार जो गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करते हैं, उनके लड़कियों के जन्म होने के उपरांत ₹50000 आर्थिक सहायता राज्य सरकार द्वारा दिए जाएंगे| तथा बेटी के माता को भी ₹51000 की धनराशि वित्तीय सहायता के रूप में दिए जाएंगे |

इस यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना के तहत जब तक बेटी 6वी कक्षा में आएगी तो माता-पिता को 3000 रुपए तथा आठवीं कक्षा में ₹5000 तथा कक्षा 10वी में ₹7000 और 12वीं कक्षा में लड़की के माता-पिता को 8,000 रुपए दिए जाएंगे|

वही सूचना के अंतर्गत ही लड़की के 21 वर्ष की आयु पूर्ण होने पर लड़की के परिवार या माता-पिता को 2 लाख रुपए की कुल धनराशि वित्तीय सहायता के रूप में प्रधान किए जाएंगे|

➡️➡️ यूपी फ्री बोरिंग योजना

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के तरफ से राज्य के लघु एवं सीमांत किसानों को खेती में सिंचाई हेतु बोरिंग पंप की सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से यूपी फ्री बोरिंग योजना की शुरुआत या शुभारंभ किया गया था|

इस योजना के माध्यम से सामान्य या पिछड़ा वर्ग एवं अनुसूचित जाति तथा जनजाति के लघु एवं सीमांत किसान भाइयों को सिंचाई के लिए बोरिंग नलकूप पंप या पंप सेट की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी |

ऐसे क्षेत्र जहां पर बिजली पहुंचना असंभव है उस क्षेत्र के लिए फ्री सोलर पंप योजना की शुरुआत की गई है| जिसके माध्यम से किसान को खेतों में सिंचाई करने में हो रही समस्याओं को दूर करने के लिए इस योजना का मुख्य उद्देश्य हैं |

इस योजना का लाभ केवल तभी प्रदान होगा जिन जिन किसान भाई के पास न्यूनतम खेती योग्य भूमि 0.2 हेक्टेयर है | इस योजना का लाभ लेने के बाद किसान की उपज गुणवत्ता बढ़ाने में कारगर साबित होगी तथा किसान के जीवन स्तर भी सुधर जाएंगे|

➡️➡️ यूपी वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट योजना

यूपी वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं में से एक है| वही इस योजना के माध्यम से प्रदेश के 75 जनपदों के विशेष प्रोडक्ट के उत्पाद या बढ़ावा देने हेतु बनाई गई योजना है |

इस योजना के अंतर्गत जनपद की पहचान किस प्रोडक्ट से की जाए तथा उस जिले में किस प्रोडक्ट की अधिक उत्पादक क्षमता है| उसे और अधिक बढ़ावा दिया जाए, इसके लिए यह योजना लाई गई है |

वही 5 सालों के बाद 2500000 लोगों को रोजगार प्रदान करने का भी लक्ष्य रखा गया है | उत्तर प्रदेश के छोटे मध्य एवं परंपरागत उद्योगों का विकास मैं रफ्तार कैसे आए इस पर अधिक जोर दिया गया है |

जिससे कि जिले की एक नई पहचान भी मिले जैसे कुछ जिले केले की खेती के लिए प्रसिद्ध है| या चीनी मिलों से प्रसिद्ध है| अधिक खनिज पदार्थ वाले भी जिले हैं | इस तरह के अन्य सभी जिलों में क्या अधिक उत्पादक हो सके इसके लिए इस योजना की शुरुआत की गई थी|

➡️➡️ उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना

➡️ इस योजना के माध्यम से राज्य के ऐसे श्रमिकों के भरण-पोषण के लिए सहायता प्रदान की जाती है जो उत्तर प्रदेश राज्य के अंतर्गत कार्यों को करते हैं वही उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना मैं राज्य के ही 1500000 दिहाड़ी मजदूरों तथा श्रमिक क्षेत्र में रिक्शा वाले, खोमचे वाले, रेहड़ी वाले, फेरीवाले, फुटपाथ पर सब्जी बेचने वाले, जूता पॉलिश करने वाले तथा अन्य निर्माण कार्य करने वाले, खेती बारी से जुड़े हुए कार्यों को करने वाले श्रमिकों को आम दिनों की जरूरतों को पूरा करने हेतु प्रति व्यक्ति हजार रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान किया जाता है |

वैसे आप सभी को पता होगा कि करोना काल की वजह से सभी मजदूर बेरोजगार हो गए थे| या फिर प्रदेश से बाहर किसी और ने परदेस में कार्य करने वाले मजदूरों का हाल बहुत ही बेहाल हो गया था|

इसलिए इस योजना को योगी सरकार ने शुरुआत की थी मजदूर भत्ता योजना के तहत नगर विकास के 1600000 दिहाड़ी सफाई कर्मी तथा 58000 ग्राम सभाओं में 20-20 मजदूर देने के लिए इस योजना की शुरुआत की गई थी|

➡️➡️ मजदूर भत्ता योजना पंजीकरण उत्तर प्रदेश

इस योजना के अंतर्गत ऐसे मजदूर श्रमिक को को सीधे तौर पर आर्थिक सहायता राशि उनके बैंक अकाउंट में ट्रांसफर किए जाते हैं | श्रम विभाग, नगर निगम, नगर पंचायत, नगर विकास और ग्राम सभाओं में पंजीकृत मजदूर तथा श्रमिकों को Majdur Bhatta Yojana सीधे तौर पर लाभ मिलता है|

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य के अंतर्गत अंतोदय कार्ड धारक या बीपीएल कार्ड धारक परिवारों को 20 किलो गेहूं और 15 किलो चावल सरकार करोना काल में मुफ्त में देगी| इसी बीच यह भी ऐलान हुआ है कि 1 मार्च 2022 तक महीने में दो बार बिल्कुल मुफ्त में राशन दिए जाएंगे| जिनके पास भी अंतोदय अथवा पात्र गृहस्थी राशन कार्ड मौजूद होंगे|

➡️➡️ उत्तर प्रदेश कन्या सुमंगला योजना

इस योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा लड़कियों के उज्जवल भविष्य बनाने तथा राज्य के बेटियों के जन्म से लेकर पढ़ाई तक का पूरा खर्च सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा| कन्या सुमंगला योजना के तहत बालिकाओं को ₹15000 की राशि राज्य सरकार द्वारा आर्थिक सहायता के रूप में दी जाती है |

लड़कियों को दी जाने वाली कुल धनराशि सामान किस्तों में उपलब्ध कराई जाती है | कन्या सुमंगला योजना 2020 के अंतर्गत कन्याओं के परिवार को वार्षिक आय अधिकतम 3 लाख से कम होनी चाहिए| उससे अधिक होने पर योजना का लाभ नहीं दिया जाता है|

लाभ के संबंधित संपूर्ण जानकारी के लिए दिए हुए लिंक पर क्लिक करें और अपने जानकारियों को बढ़ाएं|

➡️➡️ उत्तर प्रदेश जनसुनवाई आईजीआरएस पोर्टल

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के तरफ से जारी जनसुनवाई आईजीआरएस पोर्टल के माध्यम से ऐसे व्यक्तियों को सीधे तौर पर लाभ मिलता है| जो पुलिस की समस्या, जमीन की समस्या, अधिकारियों की समस्या या किसी भी तरह का ऐसी समस्या जहां पर उनको सही समाधान ना होने की स्थिति पर वह व्यक्ति जनसुनवाई पोर्टल पर जाकर ऑनलाइन समस्याओं के संबंध संबंधित शिकायत दर्ज करा सकता है |

➡️ इस पोर्टल में एक बार शिकायत दर्ज हो जाने के उपरांत उन समस्याओं पर उस अधिकारी के समकक्ष उचित जवाब मिल जाने तक यह कार्रवाई जारी रहती है| जब तक शिकायतकर्ता और स्पष्ट रूप से संतुष्टि प्रस्तुत नहीं कर देता| तब तक यह शिकायत यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर जारी रहती है |

इस पोर्टल पर शिकायत दर्ज कराना काफी आसान है आधिकारिक वेब उत्तर प्रदेश जनसुनवाई आईजीआरएस पोर्टल पर जाकर कोई भी उत्तर प्रदेश का निवासी किसी भी डिपार्टमेंट के संबंधित शिकायत ऑनलाइन के माध्यम से दर्ज करवा सकता है|

➡️➡️ उत्तर प्रदेश बेरोजगारी भत्ता Online Form

उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से बेरोजगार युवाओं को सब्सिडी के रूप में बेरोजगारी भत्ता मुहैया कराती है| इसके अंतर्गत राज्य के शिक्षित बेरोजगार युवाओं को उत्तर प्रदेश बेरोजगारी भत्ता प्रदान करने के स्वरूप ऐसे छात्र जो इंटरमीडिएट, स्नातक, सफलतापूर्वक पास करने के उपरांत बेरोजगार बैठे हैं वह लोग उत्तर प्रदेश बेरोजगारी भत्ता ऑनलाइन फॉर्म को भर सकते हैं|

जिसमें भत्ते के रूप में ₹1000 से ₹1500 की राशि सीधे खाते में उपलब्ध कराई जाती है| इस योजना का लाभ आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के अभ्यर्थियों को दी जाती है| जिसके अंतर्गत डाक्यूमेंट्स के रूप में आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, जारी करवाने होते हैं|

उसके उपरांत आप के अधिकारी को साइड में जाकर ऑनलाइन पंजीकरण करके इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं|

➡️➡️ यूपी राशन कार्ड योजना

इस योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आर्थिक रुप से कमजोर परिवारों को राशन कार्ड प्रदान करती है |

इसके लिए पात्र लाभार्थी आवेदन ऑनलाइन के माध्यम से कर सकते हैं | इच्छुक लाभार्थी ऑनलाइन राशन कार्ड बनवाने हेतु नजदीकी सहज जन सेवा केंद्र, या कॉमन सर्विस सेंटर, पर जाकर इसके लिए आवेदन दे सकते हैं| या फिर राशन डीलर या लेखपाल से भी संपर्क कर सकते हैं |

यूपी राशन कार्ड के जरिए सरकार द्वारा प्रतिमाह ग्रामीण अथवा शहरी में मौजूद राशन डीलर को राशन वितरण करने के लिए राशन के सामग्री जैसे:- कि गेहूं, चावल, चीनी, केरोसिन, आदि रियायती दर राशन कार्ड धारकों को उपलब्ध कराई जाती है |

राशन कार्ड के दो कैटेगरी बनाए गए हैं| अंतोदय (लाल राशन कार्ड), पात्र गृहस्थी (सफेद राशन कार्ड), पहले यह तीन श्रेणियों में बांटे गए थे: एपीएल राशन कार्ड, बीपीएल राशन कार्ड, AAY Ration Card फिलहाल अभी के समय में दो ही राशन कार्ड दिए जा रहे हैं|

➡️➡️ राशन कार्ड लिस्ट

कोई भी राशनकार्ड लाभार्थी जिनका राशन कार्ड पहले से बना हुआ है या नए तौर पर राशन कार्ड के लिए आवेदन दिए हैं| वे लोग अपना राशन कार्ड के संबंधित स्टेटस अथवा जानकारी ऑनलाइन के माध्यम से ले सकते हैं|

इसके अतिरिक्त वह चाहे तो अपना राशन कार्ड इंटरनेट से प्रिंट करके भी रख सकते हैं| जिसका उपयोग वे राशन कार्ड डीलर के वहां राशन लेते तो मैं भी कर सकते हैं|

इसके लिए आप सभी को राशन कार्ड की आधिकारिक वेबसाइट https://nfsa.up.gov.in/Food/citizen/Default.aspx के होम पेज पर जाना होता है| जहां पर आपको अपना जिला चुनना होता है |

जनपद चुनने के बाद अपने ब्लॉक का नाम चुने तथा ब्लाक के अंतर्गत आने वाले आपके गांव का नाम तूने, गांव का नाम चुनने के उपरांत आप सभी को अपने राशन कार्ड डीलर का नाम चुनना होगा| उसके बाद यहां पर आपको राशन कार्ड की श्रेणी दिखाई देगी|

अगर आपके पास अंतोदय कार्ड या पात्र गृहस्थी राशन कार्ड है| तो दोनों में से कोई एक पर क्लिक करें और नाम से आप लोग राशन कार्ड का सूची निकाल कर उसे प्रिंट कर सकते हैं|

➡️➡️ यूपी सम्पत्ति एवं विवाह पंजीकरण

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा दो सेवाएं एक ही सरकारी वेब पोर्टल पर मौजूद कराई गई हैं | जिसके माध्यम से राज्य का कोई भी नागरिक यूपी संपत्ति एवं विवाह पंजीकरण के संबंधित ऑनलाइन कार्यों को कर सकता है|

इच्छुक लाभार्थी अपनी संपत्ति एवं विवाह का पंजीकरण कराने के लिए जनपद स्तर पर इस कार्य को ऑनलाइन के माध्यम से भी स्वयं कर सकता है|

इसके अलावा इस आधिकारिक वेब पोर्टल के माध्यम से कोई भी नागरिक पंजीकरण विभाग की आधिकारिक वेबसाइट आईजीआरएस यूपी पर ऑनलाइन जाना होता है| उत्तर प्रदेश के नागरिकों को विभिन्न प्रकार की ऑनलाइन सेवाएं इस पोर्टल से मिल जाती हैं|

जैसे की :- अचल संपत्ति पंजीकरण, 12 साला एवं विलेखो प्रमाणित प्रतिलिपि, विवाह पंजीकरण,भर मुक्त प्रमाण पत्र, और अचल सम्पति आदि जैसी सेवाएं उपलब्ध की गई हैं|इसके अतिरिक्त विवाह प्रमाण पत्र लेने के लिए किसी सरकारी दफ्तर में जाकर चक्कर लगाने आवश्यकता नहीं होती है|

ऑनलाइन के माध्यम से भी इसे डाउनलोड कर सकते हैं| यह डिजिटल सिग्नेचर से प्रमाणित किया होता है|

➡️➡️ यूपी श्रमिक/मजदूर पंजीकरण

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी जी के द्वारा उत्तर प्रदेश के सभी श्रमिकों के हित में श्रमिक पंजीकरण यूपी योजना की शुरुआत की गई है | सरकार इस राज्य के सभी मजदूर वर्ग को पंजीकृत होने की सुविधा उपलब्ध कराती है |

योजना के अंतर्गत पंजीकृत सभी श्रमिक मजदूर को सरकारी योजनाओं का सीधा लाभ तथा इस योजना के अंतर्गत श्रमिक कार्ड बनाने के उपरांत लाभार्थी को मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना का भी लाभ दिया जाता है |

इसके अलावा मजदूर वर्ग के नागरिकों को रजिस्ट्रेशन होने के उपरांत या पंजीकृत हो जाने के उपरांत सरकार द्वारा आर्थिक सहायता राशि भी दी जाती है| इसी योजना के तहत लॉकडाउन के दौरान भी ₹1000 की राशि उपलब्ध कराई गई थी|

➡️➡️ यूपी सरकारी पेंशन योजना | यूपी पेंशन योजना लिस्ट

यूपी गवर्नमेंट के द्वारा दिव्यांगजन, वृद्ध, विधवा महिलाएं तथा निराश्रित परिवार के सदस्य को आर्थिक सहायता राशि तथा आर्थिक मदद पहुंचाने हेतु योगी सरकार की तरफ से यूपी पेंशन योजना का शुभारंभ किया गया है|

उत्तर प्रदेश पेंशन योजना के अंतर्गत राज्य का कोई भी वृद्धजन, दिव्यांगजन, और विधवा महिलाओं को पेंशन की राशि प्रदान करके उनके आर्थिक स्थिति को भी सही करने का कार्य करती है| जिससे कि वह व्यक्ति किसी और पर निर्भर न रहकर अपने जरूरतों को पूरा कर सकें|

ऐसे लाभार्थी जो इसमें इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं| तथा इस योजना के बारे में जानना चाहते हैं तो नीचे इसी क्रम में आपको पूरी जानकारी विस्तार पूर्वक दी गई है कि कैसे आप लोग उत्तर प्रदेश पेंशन या सरकारी पेंशन योजना का लाभ लेंगे|

➡️➡️उत्तर प्रदेश में पेंशन योजना के कितने प्रकार हैं?

उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से इस समय 3 पेंशन योजनाओं का वितरण किए जाते हैं जिसमें मुख्य रुप से:- शामिल किए गए हैं

वृद्धावस्था पेंशन योजना या
ओल्ड एज पेंशन योजना
विधवा पेंशन योजनादिव्यांगजन पेंशन योजना

➡️➡️ वृद्धावस्था पेंशन योजना

उत्तर प्रदेश राज्य में रहने वाले ऐसे नागरिक जो 60वर्ष की आयु पूर्ण कर चुके हैं या सीनियर सिटीजन कैटेगरी में आते हैं| उत्तर प्रदेश सरकार के तरफ से इनको वृद्धावस्था पेंशन योजना दिया जाता है|

जिसके अंतर्गत वृद्धजनों को सरकार द्वारा ₹800 प्रति माह पेंशन की राशि बुढ़ापे में आर्थिक सहयोग हेतु प्रदान की जाती है| बुजुर्ग लोगों को ₹750 रुपए प्रतिमाह की पेंशन दी जा रही है |तथा महिलाओं को 800 रुपए प्रतिमाह राशि प्रदान की जाती है|

इसके अतिरिक्त इस योजना में आवेदन करने हेतु आवश्यक डाक्यूमेंट्स के रूप में आय प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, जो कि ई डिस्ट्रिक्ट पोर्टल से ऑनलाइन के माध्यम से जारी किए हुए हो| आवश्यक रूप से देने होते हैं|

➡️➡️ विधवा पेंशन योजना

ऐसी विधवा महिलाएं जिनका इस दुनिया में कोई नहीं होता तथा जिनकी आर्थिक सहायता करने हेतु उत्तर प्रदेश सरकार के तरफ से चलाए जा रहे विधवा पेंशन योजना के माध्यम से ₹500 की राशि प्रतिमाह विधवा महिलाओं के खाते में भेजी जाती है|

जिससे कि ऐसी महिलाएं अपना भरण-पोषण खुद निर्भर होकर कर सकती हैं| तथा किसी और पर निर्भर रहने की कोई आवश्यकता नहीं होती है |

इस योजना को समाज कल्याण विभाग के द्वारा जारी किया जाता है| योजना के अंतर्गत राज्य की केवल महिला विधवा महिलाओं को पात्र माना जाएगा जिनकी आर्थिक रूप से कमजोर है|

➡️➡️ दिव्यांगजन पेंशन योजना

वही दिव्यांगजन पेंशन योजना के अंतर्गत राज्य के सभी दिव्यांगजन नागरिकों को राज्य सरकार के माध्यम से प्रतिमाह ₹500 की धनराशि आर्थिक सहायता के रूप में दी जाती है| दिव्यांगजन इस राशि को पाकर अपने जीवन यापन को अच्छे से निर्वहन कर सकें |

विकलांग पेंशन योजना के तहत 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी विकलांग व्यक्तियों को और जिसका नाम अखिल भारतीय अंतिम बीपीएल सूची, BPL List में दिखाई देता है | उन्हें प्रतिमाह ₹500 की धनराशि UP Viklang Pension के तहत प्रदान की जाती है|

व्यक्ति कम से कम 40% परसेंट विक्रांत दिव्यांगजन होने चाहिए|

➡️➡️ गन्ना पर्ची का कैलेंडर कैसे देखें (sugarcane Mils slip calendar)

राज में ऐसे किसान जो गन्ना की खेती बड़े स्तर पर करते हैं तथा गन्ने को जब चीनी मिल्स को बेचने जाते हैं तो उनके पास गन्ना पर्ची कैलेंडर पहले ऑनलाइन के माध्यम से निकलवाना पड़ता है|

इसके लिए किसान किसी भी जन सेवा केंद्र या खुद से उत्तर प्रदेश सरकार के तरफ से जारी आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से गन्ना पर्ची ऑनलाइन के माध्यम से निकाली जा सकती है |

उत्तर प्रदेश राज्य में गन्ना पर्ची कैलेंडर देखने हेतु किसान ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से अपनी चीनी मिल के संबंधित जैसे कि:- सर्वे, पर्ची, निर्गम, निर्गमन, तौल, भुगतान एवं विकास संबंधित सभी सेवाएं ऑनलाइन स्वयं जांच कर सकते हैं |

गन्ना पर्ची कैलेंडर वेब पोर्टल के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं लाभार्थी किसान गन्ना पर्ची कैलेंडर देखने के लिए ऑनलाइन स्वयं जांच कर सकते हैं|

➡️➡️ उत्तर प्रदेश भूलेख खसरा खतौनी

उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से जारी यूपी भूलेख की सभी सेवाएं ऑनलाइन के माध्यम से दी जाने लगी है |

राज्य का कोई भी नागरिक भूमि या खेती-बाड़ी के भूमि के संबंधित जैसे कि खेत का नक्शा, भूमि का विवरण, खेत के संबंधित कागजात, इत्यादि आसानी से ऑनलाइन देख सकते हैं| यूपी भूलेख का मतलब है कि भूमि के संबंधित सभी सेवाएं प्राप्त करना|

उत्तर प्रदेश भूलेख पोर्टल में दी जाने वाली सेवाओं में भूमि की जमाबंदी, सजरा, खसरा, खतौनी, भूमि का नक्शा, तथा अन्य सभी सेवाएं शामिल हैं| यूपी के सभी नागरिक को तहसील जाने की आवश्यकता नहीं है|

वे सभी ऑनलाइन के माध्यम से आपको मिल जाएंगी! इसके अतिरिक्त आप चाहे तो नजदीक जन सेवा केंद्र पर जाकर जानकारियों को प्राप्त कर सकते हैं| अगर आप स्वयं इस कार्य को घर बैठे करना चाहते हैं तो उत्तर प्रदेश भूलेख पोर्टल पर जाना होता है और कार्यों को करना होता है|

➡️➡️ Up Sarkari Yojana List

➡️➡️ Up Sarkari Yojana Online (UP CM योगी योजना)

  • ऊपर बताए गए सभी उत्तर प्रदेश की सरकारी योजनाओं में अगर आप लाभ उठाना चाहते हैं|
  • तो कोई भी इच्छुक लाभार्थी यूपी सरकारी योजना के संबंधित दिए हुए आधिकारिक लिंक पर क्लिक करेगा|
  • जैसे ही आप ऑफिशियल वेबसाइट पर अपनी पहुंच बना लेंगे आपके सामने होमपेज दिखाई देगा |
  • आधिकारिक वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन करने के संबंधित जानकारी तथा योजना में लगने वाले आवश्यक पात्रता डाक्यूमेंट्स तथा अंतिम तिथि भी दर्शाई गई होती है|
  • फॉर्म ऑनलाइन आवेदन भरने के उपरांत आप को एक बार अवश्य जांच करें तब आखरी मैं सबमिट करेंसे|
  • और संबंधित जानकारी आपको ईमेल अथवा मोबाइल के माध्यम से भी प्राप्त हो जाएगी|

➡️➡️ यूपी पात्र लाभार्थी सूची देखें

  • राज्य के ऐसे नागरिक जो योगी योजनाओं तथा उत्तर प्रदेश सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भरे हैं |
  • उन लोगों को लाभार्थी की सूची में अपना नाम अगर देखना चाहते हैं|
  • तो उन्हें उसी आधिकारिक वेबसाइट जो कि योजना के संबंधित बनाई गई है |
  • वहां जाना होगा और होम पेज पर ही लाभार्थी सूची में अपना नाम ऑनलाइन के माध्यम से देख सकते हैं |
  • लाभार्थी का नाम सूची में नहीं आया है वह लोग लाभार्थी नॉट लिस्टेड सूची में जानकारियों को देख सकते हैं|

➡️➡️ यूपी सरकारी योजना सीएम हेल्पलाइन नंबर

  • उत्तर प्रदेश राज्य का कोई भी व्यक्ति अगर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय श्री योगी आदित्यनाथ जी से संपर्क साधना यूपी सरकारी योजना चाहता है|
  • या किसी भी समस्या के संबंधित शिकायत दर्ज कराना चाहता है|
  • तो उन लोगों को उत्तर प्रदेश द्वारा जारी जनसुनवाई पोर्टल पर जाना होगा|
up sarkari yojana
up sarkari yojana
  • आधिकारिक होम पेज पर आने के उपरांत संबंधित जानकारी आपको दिखाई देगी|
  • वही जनसुनवाई पोर्टल पर समस्याओं का समाधान हेतु जानकारी देख सकते हैं|
  • इस कार्य को वह व्यक्ति ऑनलाइन कभी माध्यम से या टेलीफोन के माध्यम से भी कर सकते हैं|
  • आइजीआरएस जनसुनवाई पोर्टल में कांटेक्ट या संपर्क करें के ऑप्शन पर आपको क्लिक करना होगा |
  • जिसके बाद आपके सामने जानकारी खुलकर आ जाएगी जनसुनवाई आइजीआरएस पोर्टल में कांटेक्ट नंबर दिखाई देगा |
  • अब आप लोग इस पर संपर्क कर सकते हैं राज्य की जो भी नागरिक किसी भी प्रकार की कोई भी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं|

यहां मेरे द्वारा उत्तर प्रदेश सरकारी योजनाओं /bharatyojana.org, के संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई गई है इसके अतिरिक्त और अधिक कोई योजनाओं के संबंधित जानकारी लेनी हो तो कमेंट करके जरूर बताएं अच्छा लगा हो तो लाइक और शेयर अवश्य करें|