PM Care Fund : के नए ट्रस्टी चुने गए रतन टाटा, माननीय श्री प्रधानमंत्री मोदी द्वारा ,चुनौती पूर्व जिम्मेदारी रतन टाटा को सौंपी गई

PM Care Fund :भारत सरकार के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा भारत के उद्योगपति रतन टाटा “Industrialist Ratan Tata” को पीएम केयर्स फंड के ट्रस्टी चुने गए जाने की सूचना काफी जोरों से इंटरनेट की दुनिया में वायरल हो रही है | आइए जानते हैं क्या है, पीएम केयर्स फंड (PM Care Fund New)




New Trustee of PM Cares Fund :- भारत के बहुत बड़े उद्योगपति को माननीय नरेंद्र मोदी द्वारा पीएम केयर्स फंड के नए ट्रस्टी के रूप में रतन टाटा को चुना गया है | हालांकि रतन टाटा को पहले से भी बहुत बड़ी जिम्मेदारी उनकी टाटा कंपनी को चलाने की थी |

उसके बावजूद भी प्रधानमंत्री द्वारा रतन टाटा को पीएम केयर्स फंड के ट्रेजरी बनाने पर मना नहीं किया गया और उस जिम्मेदारी को बखूबी निभाने का वादा भी किया गया बता दें कि रतन टाटा भारत के बड़े उद्योगपतियों में गिने-चुने नामों मैं एक हैं |

यह काफी चर्चाओं में बने रहते हैं |अपनी दान करने की जो अंदाज है | काफी मात्रा में लोगों पर एक दान के तौर पर खर्च करते हैं |

PM Care Fund
PM Care Fund

पीएम केयर्स फंड क्या है ?

What is PM Cares Fund :-पीएम केयर्स फंड “PM Care Fund ” का निर्माण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नागरिक सहायता और अकल्पनीय स्थिति में लोगों को राहत पहुंचाने के लिए किया गया था पीएम केयर्स फंड का निर्माण 28 मार्च 2020 को बनाई गई थी |

कोरोना वायरस के दौरान एवं भविष्य में किसी अन्य प्रकार के महामारी के खिलाफ मुकाबला और राहत प्रयासों को किए जाने के लिए पीएम केयर्स फंड “PM Care Fund “ का निर्माण का गठन किया गया था |

पीएम केयर्स फंड का अध्यक्ष नरेंद्र मोदी थे और उप ट्रस्टी यों के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को बनाया गया था इसी पीएम केयर्स फंड को खाते के विवरण विपक्षियों द्वारा मांगा जाता है |

जिसका पारदर्शिता जवाबदेही नहीं होने के कारण विपक्षी द्वारा इसका आलोचना भी जमकर किया जाता है उनके द्वारा कहा जाता है कि दान किए गए और वह की संपत्तियां दानदाताओं के नाम सार्वजनिक रूप से खुलासा होना चाहिए और इसे कहां-कहां खर्च किया गया है |

ऑडिट किया जाना चाहिए प्रधानमंत्री मोदी द्वारा विपक्षियों को इस बात को खारिज करते हुए पीएम केयर्स फंड का सार्वजनिक पर किरण धन की जानकारी देने से मना कर दिया एवं वही पारदर्शिता कानून जैसे सूचनाओं का अधिकार 2005 का नियम बताते हुए विवरण देने से मना कर दिया इस पीएम केयर्स फंड “PM Care Fund “ के नए ट्रेजरी के रूप में रतन टाटा भारत के उद्योगपति को बनाया गया है |

पीएम केयर्स फंड विवादों में भी रहा है

PM Cares Fund Controversies :- माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पीएम केयर्स फंड “PM Care Fund “ का शुभारंभ किया गया था 20 मार्च 2020 को जब से पीएम केयर्स फंड का निर्माण हुआ था तो गरीब से लेकर अमीर तक सारे लोग इसमें दान के तौर पर पैसा जमा किया पीएम केयर्स फंड “PM Care Fund “ में लगभग करोड़ों अरबों रुपए की दान के रूप में मिली राशि को विपक्षियों द्वारा सार्वजनिक करने के लगातार उठते

मांग को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किसी प्रकार का जवाब ना देने का निर्णय विपक्षियों को काफी जोर हंगामा लगातार काफी दिनों तक किया गया और जितने लोगों द्वारा इस में दान दिया गया था उनका नाम सार्वजनिक करने के लिए विपक्षियों द्वारा लगातार सत्ता में सदन में चौक पर चौराहों पर जोरदार विरोध प्रदर्शन किया गया था |

PM Care Fund–  महत्वपूर्ण लिंक देखें
Gadgets Update Hindi Home Page LinkClick Here
Liger movie 2022Click Here
Amrita Hospital 2022Click Here
Instagram Joining LinkClick Here
Google NewsClick Here
telegram webClick Here

Leave a Comment