कोविड-19 बूस्टर डोज कब लगवाएं, डॉक्टरों ने बताया इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए कब लगाएं बूस्टर डोज

COVID-19 Booster Dose Today : लगातार देश में बढ़ती कोरोनावायरस वायरस को देखते हुए सरकार द्वारा बूस्टर डोज लोगों को मुहैया कराने के लिए जगह-जगह कैंप लगा शुरू कर दिए हैं ,लेकिन ओमिक्रॉन वायरस से लगभग दोनों टीके का डोज लगवाने के बावजूद भी इसके शिकार व्यक्ति हो जा रहे हैं | क्योंकि टीके का असर लगभग 3 माह के बाद धीरे-धीरे बेअसर साबित हो जाती है | डॉक्टरों ने बताया कितने समय बाद ( COVID-19 Booster Dose ) इम्युनिटी बढ़ाने के लिए, लिया जा सकता है | Booster Dose




COVID-19 Booster Dose Today
COVID-19 Booster Dose Today

कोविड-19 ( COVID-19 ) : लगातार दो 3 सालों से देखा जाए तो कोविड-19 आम जिंदगी की हिस्सा बन चुकी है हालांकि इसका मतलब यह नहीं कि इस महामारी को हल्के में लिया जाना है | लगातार बढ़ रही ओमिक्रॉन वायरस के नए नए वेरिएंट कभी भी विक्रांत रूप ले सकती है हालांकि इन खतरों से बचने के लिए कोविड-19 के दोनों टीके लगवाने वाले व्यक्ति भी एकदम सुरक्षित एवं सेफ माने जा रहे हैं |

COVID 19 Booster Dose
कोविड-19 बूस्टर डोज कब लगवाएं, डॉक्टरों ने बताया इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए कब लगाएं बूस्टर डोज 4

COVID-19 Booster Dose Today : डॉक्टरों की माने तो कोविड-19 वैक्सीन दूसरी दूध ले चुके व्यक्तियों को भी एक समय अवधि के दौरान कोरोनावायरस या ओमी क्रोन वायरस अपनी शिकार आसानी से बना सकता है क्योंकि डॉक्टरों की माने तो वैक्सीन का असर कुछ वक्त बाद अपना असर होने लगता है इसीलिए एक निश्चित समय अवधि के बाद COVID-19 Booster Dose लगवाना जरूरी होता है | आइए जानते हैं कि (Correct time to take booster dose) आखिर किस समय तक बूस्टर डोज लगवा लेना चाहिए |

कोविड-19 बूस्टर डोज क्यों है जरूरी

Covid-19 Booster Dose : डॉक्टरों की मानें तो भारत सरकार तथा सभी बड़े डॉक्टर कोविड-19 वैक्सीन की तीसरी डोज जिसे हम बूस्टर डोज कहते हैं उसे लेने के लिए सलाह दिया जा रहा है, क्योंकि इस बूस्टर डोज की मदद से शरीर की एंटीबॉडी इम्यूनिटी सिस्टम को बढ़ाया जा सकता है | और ओमीक्रोम के नए-नए वेरिएंट से बचा जा सकता है, डॉक्टरों द्वारा यह बताया जा रहा है कि, कोविड-19 से बचने के लिए हमारी शरीर को एंटीबॉडी विकसित करनी होगी, लेकिन तीसरी डोज जो की बाड़ी में एंटीबॉडी तो बढ़ा देगी लेकिन लगभग 3 महीने वह शरीर में धीरे-धीरे कम होना जाएगी




Covid-19 Booster Dose : डॉक्टरों का मानना है कि यूनिटी बढ़ाने के लिए बूस्टर डोज एक महत्वपूर्ण कदम हो सकता है क्योंकि वैक्सीन की दूसरी और आखिरी डोज लगाने के लगभग 6 महीने बाद शरीर की एंटीबॉडी बहुत कम हो जाती है | और उम्मीद जताई जा रही है कि ओमी क्रोम व्यक्तियों को आसानी से संक्रमित कर सकता है |

अगर बूस्टर डोज नहीं लगवाए हैं तो क्या करें

COVID 19 Booster Dose 1
कोविड-19 बूस्टर डोज कब लगवाएं, डॉक्टरों ने बताया इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए कब लगाएं बूस्टर डोज 5

डॉक्टरों की मानें तो लोगों को जल्द से जल्द बूस्टर डोज लगा लेनी चाहिए | लेकिन फिलहाल ओमिक्रॉन से बचने के लिए लोगों को एहतियातन जरूरी बरतने की सलाह दी जाती है |

  • कहीं बाहर आए जाए तो मास का प्रयोग करें |
  • अगर आपके घर में कोई इनफेक्टेड है तो उनसे उचित दूरी बना कर रहे हैं |
  • बीमार होने के तुरंत ही डॉक्टर को दिखाएं और उपचार शुरू करें |
  • सर्दी खांसी जुकाम वाले लोगों से दूरी बनाकर रखें |

नोट :- यह एक सामान्य जानकारी के लिए प्रस्तुत किया गया है किसी भी तरह की दवा या इलाज के विकल्प इसे ना माने अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से सलाह लें..

COVID-19 Booster Dose Today 2023 – महत्वपूर्ण लिंक देखें

Gadgets Update Hindi Home Page LinkClick Here
Eelectric Bicycle 2022Click Here
khan sir patna 5g analysisClick Here
Instagram Joining LinkClick Here
Google NewsClick Here
telegram webClick Here

Leave a Comment